Mountain Ranges of India

Mountain Ranges of India

MOUNTAIN RANGES OF INDIA(भारत की पर्वत श्रृंखलाएं)

Mountain Ranges of India
Mountain Ranges of India
  • भारत दुनिया के कुल क्षेत्रफल का 2.4% के साथ सातवां सबसे बड़ा देश है।
  • उप-महाद्वीप में विशिष्ट विशेषताओं के विकास के लिए भारत की  भोगोलिक सरंचना  अद्वितीय है और जिम्मेदार है।
  • भारतीय उप-महाद्वीप में भारत, पाकिस्तान, नेपाल, बांग्लादेश और भूटान शामिल हैं, जो पूरी तरह से उत्तरी गोलार्ध में स्थित हैं।
  • भारत की मुख्यभूमि 8 ° 4 37 उत्तर और 37 ° 6 length उत्तर लंबाई (अक्षांश) से फैली हुई है। और 68 ° 7 and पूर्व और 97 ° 25 width पूर्व के बीच चौड़ाई (देशांतर) में।
  • यह 3214 किमी के उत्तर-दक्षिण विस्तार और 2933 किमी के पूर्व-पश्चिम विस्तार को बनाता है।
  • 23 ° 30, उत्तर में, कर्क रेखा भारत के केंद्र से गुजरती है, देश को दो समान भागों में विभाजित करती है – उत्तरी और दक्षिणी भारत।
  • कर्क रेखा भारत के आठ राज्यों – गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड, पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा और मिज़ोरम से होकर गुजरती है।
  • पश्चिमी और पूर्वी देशांतरों के बीच 30 डिग्री का अंतर होता है जो देश के पश्चिमी-सबसे और पूर्वी अधिकांश क्षेत्रों के बीच लगभग दो घंटे का अंतर पैदा करता है।
  • स्टैंडर्ड मेरिडियन 82 ° 30 पूर्वी देशांतर पर स्थित है, जो देश के मध्य में पड़ता है।
  •  यह भारतीय मानक समय (GMT से 5 और आधे घंटे पहले) निर्धारित करता है। मानक मेरिडियन उत्तर प्रदेश में इलाहाबाद(नैनी) के पास मिर्जापुर से गुजरता है।
  • भारत के भूगोल को समझने के लिए, भारत की भौतिक विज्ञान को समझना अति आवश्यक  है।
  • भोगोलिक रूप से भारत को निम्नलिखित भागों में विभाजित किया जा सकता है
  • भारत महान भौतिक विविधता का देश है। विभिन्न शारीरिक विशेषताओं के आधार पर, भारत को छह शारीरिक विभाजनों में विभाजित किया गया है

1.उतरी और उतर -पूर्वी पर्वत(Mountains of India)

2. उत्तर का विशाल मैदान(Great Plains of India)

3. प्रायद्वीपीय पठार(Penisular Plateau of Inida)

4. भारतीय रेगिस्तान(Indian Desert)

5. तटीय मैदान(Coastal Plains of India)

6. द्वीप(Islands of India)

Also Read – Also Read- President of IndiaSupreme Court of India, Attorney General of IndiaComptroller and Auditor General of IndiaDhami FiringRiver System of India,

1.उतर और उतर -पूर्वी भारतीय पर्वत( North and North Eastern Mountain Ranges of India)

Trans- Himalayan Region (ट्रांस हिमालय क्षेत्र )

यह महान हिमालय के उतर में तथा तिब्बत के दक्षिण में स्थित हैं। इसमें लद्दाख, जास्कर, कैलाश, और काराकोरम पर्वत श्रेणियां सम्मिलित हैं . इस क्षेत्र में विश्व का सबसे बड़ा ग्लेशियर सायचीन (Siachin) है जो की नुब्रा घटी में स्थित है जिसकी लम्बाई 72Km से भी ज्यादा यह श्रेणी बंगाल की खाड़ी में गिरने वाली नदियों तथा उतर की और भूमि से घिरी हुई झीलों में गिरने वाली नदियों के बीच जल विभाजक का कार्य करती हैं।

हिमालय पर्वत श्रृंखला (The Himalayan Mountains Range)

  • वे दुनिया की सबसे नवीनतम  मोडधार पर्वत श्रृंखलाओं(New Fold Mountains) में से एक हैं और इसमें मुख्य रूप से अवसादी चट्टानें(Sedimentary Rocks) हैं।
  • हिमालय की उत्पति का आधुनिक सिधांत प्लेट विवर्तनिक है .
  • वे पश्चिम में सिंधु नदी से पूर्व में ब्रह्मपुत्र नदी तक फैला है। उनकी औसत लम्बाई  5000 मीटर है।
  • पूर्वी हिमालय पटकाई हिल्स(Patkai Hills) , नागा(Naga)हिल्स, मिज़ो हिल्स(Mizo Hills) और गारो खासी(Gaaro-Khasi Hills) और जयंतिया पहाड़ी से बना है और पूर्वांचल के रूप में भी जाना जाता है
  • दुनिया की छत (Pamir is also called Roof of the world)के रूप में लोकप्रिय पामीर, हिमालय और मध्य एशिया की उच्च श्रृंखलाओं के बीच की कड़ी है।
  • हिमालय को 3 समानांतर क्षेत्रों में विभाजित किया जा सकता है, प्रत्येक में अलग-अलग विशेषताएं हैं-

The Great Himalayas (बृहद हिमालय या आतंरिक हिमालय)

  • यह हिमालय की सबसे ऊँची श्रेणी है
  • इसकी औसत ऊंचाई 6000 मीटर् है

विश्व की कई ऊँचे पर्वत शिखर इस श्रीन्खला में स्थित है  

Name o PeakHeight (In Meters)Situated in
Mt. Everest(Sagarmatha or Choma Langma)8848Nepal
Mt. Kanchenjunga8598India
Mt. Makalu8481Nepal
Mt. Dhaulagiri8172Nepal
Mt. Cho Oyu8153Nepal
Mt. Nanga Parvat8126India
Mt. Annapurna8078Nepal
Mt. Nanda Devi7817India

वृहत हिमालय में कई ऐसे दर्रे हैं जिनकी औसत ऊंचाई 4,500 मीटर है जैसे की हिमाचल प्रदेश के शिपकिला दर्रा, बारालाचा दर्रा , कश्मीर के बुर्जिल और जोजी ला, उत्तराखंड के लिपुलेख और थागला और सिक्किम के जेलेप ला, और नाथुला दर्रे

Lesser Himalayas or Middle Himalayas or Himachal(मध्य – हिमालय और हिमाचल)

  • इनका विस्तार मुख्य हिमालय के दक्षिण में है
  • इनकी औसत ऊंचाई 3700 मीटर से 4500 तक है
  • पीर पंजाल, धौलाधार, नागटिब्बा, मसूरी की पर्वत श्रेणियां इसमें हैं
  • कश्मीर, काठमांडू, काँगड़ा और कुल्लू घाटियाँ इसी क्षेत्र में आते हैं
  • भारत के मुख्या पर्यटन स्थल जैसे शिमला, मसूरी, नैनीताल, चकराता, रानीखेत, तथा दार्जिलिंग इसी क्षेत्र में आते हैं .
  • छोटे-छोटे घास के मैदान जैसे कश्मीर में मार्ग ठाठ उत्तराखंड में बुग्याल भी इसी में आते है तथा ये अल्पाइन वनों की चारागाह भूमि है .
  • इसमें पीरपंजाल और बनिहाल दर्रे मुख्य हैं

The Shiwaliks or Outer Himalayas(शिवालिक या बाह्य हिमालय)

Mountains Passes of India
  • यह लघु हिमालय के दक्षिण में इसके सामानांतर पूर-पश्चिम दिशा में फैला हुआ है
  • इसकी औसत ऊंचाई 900 मीटर से 1,200 मीटर तक तथा औसत चौड़ाई 10-15 किलोमीटर तक है .
  • यह हिमालय पर्वत श्रृंखला की दक्षिणतम श्रेणी है
  • शिवालालिक को जम्मू में जम्मू पहाड़ियों तथा अरुणांचल प्रदेश में दफ़ला, मिरी, अबोर और मिश्मी पहाड़ियों के नाम से जाना जाता है
  • यह हिमालय का सबसे नविनतम भाग है जिसका निर्माण मध्य मायोसीन से निम्न प्लिस्टोसिन काल तक माना जाता है
  • यह श्रेणी भी अपने उतर में मध्य अथवा लघु हिमालय से सीमांत दरार (भ्रंश)द्वारा पृथक होती है
  • लघु तथा बाह्य हिमालय के बिच में जो विस्तृत घाटियाँ पाई जाती हैं उन्हें पश्चिम में दून तथा पूर्व में द्वार कहते हैं
  • देहरादून, कोथारिदून तथा पत्लिदून और हरिद्वार इसके प्रमुख उदाहरण
PassesStates
KarrakoramJammu & Kashmir
BalihalJammu & Kashmir
RohtangHimanchal Pradesh
Bara-Lacha- LaHimachal Pradesh
Shipki LaHimachal Pradesh
NitiLaUttarakhand
Lipulekh LaUttarakhand
Jelep LaSikkim
Nathu LaSikkim

Peninsular Mountain Ranges of India(प्रायद्वीपीय भारत के पर्वत श्रृंखलाएं)

Aravali Mountains (अरावली पर्वत)

  • अरावली पर्वत श्रृंखलाएं दुनिया के सबसे पुरानी वलित पर्वत श्रृंखला है (Oldest Fold Mountains)
  • इसकी लम्बाई 1100 किलोमीटर है जो दिल्ली से अहमदाबाद तक फैली है .
  • अरावली पर्वत का सर्वोच्च शिखर ‘गुरु शिखर’ पर्वत है जो माउंट आबू की पहाड़ी पर स्थित है
  • पिपली घाट इसी पर्वत पर स्थित है
  • अमरकंटक मेकाले पहाड़ी का सर्वोच्च शिकार है जहीन से सों एवं नर्मदा नदी निकलती है .

Vindhya Mountain Range of India(विंध्यांचल पर्वत श्रेणी श्रृंखला )

  • यह विंध्यांचल, भांडेर, कैमूर और पारसनाथ पहाड़ियों का समूह है जो उतर को दक्षिण भारत से अलग करती है .
  • विंध्यांचल पर्वत श्रेणी नर्मदा की दरार घाटी की खड़ी ढल मात्र है
  • विंध्यांचल पर्वत में दरार घाटियों(Rift Valleys)होने की वजह से नर्मदा और ताप्ति पूर्व की और न बहकर पश्चिम की और बहती हुई अरब सागर में गिरती है

The Western Ghats or Sahyadris Mountain Range of India

  • पश्चिमी घाट की औसत ऊंचाई 1,200 मीटर है
  • उतरी सह्याद्री का सर्वोच्च शिखर काल्सुबाई (1646 मीटर) है जबकि दक्षिणी सह्याद्री का सर्वोच्च शिखर कुद्रेमुख (1892Mt)है
  • इस के चार प्रमुख दर्रे हैं
  1. थाल घाट – यह नासिक को मुंबई से जोड़ता है
  2. भोर घाट – मुंबई को पुणे से जोड़ता है
  3. पाल घाट – यह केरल में स्थित है जो दक्षिण भारत के दो शहर कोच्ची और कोयम्बतूर को जोड़ता है
  4. सेनकोटा दर्रा – तिरुंवनन्त्पुरम से मदुरै को जोड़ता है

पश्चिमी घाट पर्वत पर ही भारत का सबसे ऊँचा जलप्रपात शरावती नदी का गर्सोप्पा जलप्रपात बनता है जिसे की जोग जलप्रपात भी कहते हैं .

Eastern Ghat of Peninsular India (पूर्वी घाट )

  • इस घाट का सर्वोच्च शिखर विशाखापट्नम है जिसके ऊंचाई 1,680 मीटर है
  • इनका विस्तार ओड़िसा से तामिलनाडू तक है और और वह श्रेणी लगभग 1,300 मीटर है
  • इसका दूसरा सर्वोच्च शिखर महेंद्र्गिरी (1,501 मीटर )है

NILGIRI MOUNTAIN RANGE OF INDIA(निलगिरी पर्वत माला )

Anamudi Peak
  • निलगिरी की पहाड़ियां पश्चिमी घाट और पूर्वी घाट का संगमस्थल है
  • दक्षिण भारत का सर्वोच्च शिखर अनाईमुडी (Annaimudi Hill-2695 Mt.)है .
  • निलगिरी का सर्वोच्च शिखर डोडाबेटा (2,623 Mt.) है .
  • अन्नामलाई पर्वत के दक्षिण में कार्दामोम पहाड़ी (इलायची)की पहाड़ियां है .
  • अनैमुड़ी तिन पहाड़ियों का केंद्रबिंदु है – इलायची, अन्नामलाई, पालनी

सतपुड़ा पर्वत श्रृंखला (Satpura Mountain Range of India)

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *